• 23/09/2022 12:04 am

उत्तराखंड:अभिनेता सोनू सूद ने उत्तराखंड आपदा में चार अनाथ बच्चियों को 5 साल तक पढ़ाने की जिम्मेदारी उठाई|

उत्तराखंड जोशीमठ ग्लेशियर टूटने से तपोवन क्षेत्र में काफी तबाही हुई जिस वजह से कई लोग लापता हुए कई लोग मारे गए ग्लेशियर के टूटने से नीति घाटी को जोड़ने वाला पुल भी बह गया जिसकी वजह से 6,7 गांवो का संपर्क टूटा बहुत से बच्चे अनाथ हो गए |

कुछ समय पहले अभिनेता सोनू सूद ने भी इस हादसे पर दुख जताया था और ट्वीट करते हुए लिखा था “उत्तराखंड हम आपके साथ हैं” कोरोना काल में सोनू सूद गरीबों के मसीहा बन गए थे उन्होंने कोरोना काल में लाखों की संख्या में लोगों को अपने घर तक पहुंचाया साथ ही अनाथ बच्चों का सहारा बने थे सोनू सूद, एक बार फिर से सोनू सूद ने उत्तराखंड के लोगों का दिल जीत लिया है कल सोनू सूद ने एक ट्वीट कर फोटो शेयर की जिसमें सोनू सूद ने लिखा था “यह परिवार अब हमारा है भाई”

चमोली ग्लेशियर टूटने की आपदा में एक परिवार के बच्चे अनाथ हो गए उत्तराखंड आपदा में मारे गए स्वर्गीय आलम पुंडीर की 4 बेटियां अनाथ हो गई जब यह खबर अभिनेता सोनू सूद को पता चली तब अभिनेता सोनू सूद ने ट्वीट कर बताया इन अनाथ बच्चियों को 5 साल तक पढ़ाने की जिम्मेदारी मेरी है| अभिनेता सोनू सूद हर वक्त कोई ना कोई ऐसा काम कर देते हैं जिससे वह करोड़ों लोगों का दिल जीत लेते हैं इसीलिए सोनू सूद को गरीबों का मसीहा कहा जाता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published.